Breaking News

छत्तीसगढ़ मे कोरोना के तीसरे लहर ने दी दस्तक, प्रभारी मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा- सुनामी की तरह आ सकता है तीसरी लहर, इसलिए रोकथाम के लिए प्रभावी कदम उठाना जरूरी

प्रभावी रोकथाम के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश

कंटेन्टमेंट घोषित क्षेत्र को कठोरता से पालन कराएं

सैम्पल की क्षमता और बढ़ाए, चिन्हांकित कर उपचार करें

जिले के आश्रम,छात्रावास,स्कूलों को क्वारेटाईन सेंटर अथवा कोविड केयर सेंटर के रूप में चिन्हांकित करें

वायरस के रोकथाम के लिए टीकाकरण अवश्यक कराएं

स्वास्थ्य विभाग के सहयोग के लिए वैटनरी के तकनीकि कर्मचारियों की सेवाएं ले

ग्राम पंचायतों में पलायन पंजी विशेष कर संधारित करें

बिना चिकित्सा परामर्श के नागरिक स्वयं से कोई भी दवाई ना ले

होम आईसोलेशन को प्राथकिमता दे

जिले के सभी सामुदायिक,प्राथमिक व उपवास्थ्य केन्द्रों को मिशन मोड पर तैयार रखें

मास्क अनिवार्य करे, गांव-गांव में मुनादी कराएं

प्रभारी मंत्री सिंहदेव ने कोरोना संक्रमण से निबटने विभिन्न सामाजिक संगठनों से की सहयोग की अपील

कवर्धा, 06 जनवरी 2022। छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री व कबीरधाम जिले के प्रभारी मंत्री टीएस सिंह देव ने आज जिले के प्रशासनिक अधिकारी, सभी नगरीय निकाय, जनपद सदस्य, अध्यक्ष, समाजिक संगठन और मीडिया के प्रतिनिधियों से वर्चुअल बैठक ली। बैठक में उन्होने वैश्विक महामारी कोरोना वायरस की तीसरी लहर और कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन से संक्रमण के प्रभावी रोकथाम के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने जिले के समाजिक संगठनों से कोरोना संक्रमण से निपटने विभिन्न सामाजिक संगठनों से की सहयोग की अपील भी की। बैठक में कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा, पुलिस अधीक्षक डॉ लाल उमेंद सिंह, जिला पंचायत सीईओ विजय दयाराम के, अपर कलेक्टर बी.एस. उइके, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एसके मंडल, नगर पालिका अध्यक्ष ऋषि शर्मा सहित समस्त जनपद अध्यक्ष,उपाध्यक्ष व जनप्रतिनिधि तथा मीडिया के प्रतिनिधि विशेष रूप से उपस्थित थे।

स्वास्थ्य मंत्री व कबीरधाम जिले के प्रभारी मंत्री टीएस सिंह देव कहा कि देश के साथ-साथ प्रदेश में तेजी से बढ़ते कोरोना मरीजों की संख्या से हम इसी संभावित तीसरी लहर से इंनकार नहीं कर सकते। डॉक्टर टीएम सिंह देव ने आज कहा कि देश के नीति आयोग के सदस्य डॉक्टर पॉल की माने तो वैश्विक महामारी कोरोना वायरस की तीसरी लहर एक सुनामी की तरह तेजी से आएगा। देश अथवा राज्य में तेजी से बड़े संक्रमित मरीजों से यह आंकलन लाया जा सकता है। इसके प्रभावी रोकथाम के लिए मिशन मोड पर कार्ययोजना बनाकर क्रियान्वयन करने की जरूरत है। उन्होने कहा कि कबीरधाम सरहदी जिला है। यहां से देश के अनेक राज्यों से नागरिक एक पर्यटक के रूप में भी आते है। इसी प्रकार प्रदेश के अन्य जिले के श्रमिकों का आना जाना रहता हैं। इस लिहाज से जिला प्रशासन को बहुत सतर्क होने की जरूरत है। इस जिले के मार्ग से प्रवेश करने वाले सभी अंतर्राज्यीय बसों के यात्रियों की कोरोना टेंस्ट कराना अनिवार्य करें। बैठक में कलेक्टर श्री रमेश कुमा शर्मा ने बताया कि जिले के तीनों प्रवेश मार्गों में कोरोना का जांच अनिवार्य किए गए है। उन्होने प्रभारी मंत्री को जिले में अब तक जिला प्रशासन द्वारा किए गए तैयारियों के संबंध में विस्तार अवगत कराया।

प्रभारी मंत्री सिंहदेव ने कहा कि हमारे सामने कोरोना के प्रथम और दूसरे लहर उदाहरण के रूप में मौजूद है। इससे हमे हाईअलर्ट होने की जरूरत है। बैठक में उन्होने जिले में अब तक कोरोना के बचाव व आवश्यक रोकथाम, टीकाकरण की स्थिति, तथ अन्य व्यवस्था के संबंध में गहनता से जानकारी ली। उन्होने जिला प्रशासन को ग्राम स्तर पर पलायन पंजी को विशेष रूप से संधारित करने के निर्देश दिए। बाहर से आने वाले श्रमिकों की जानकारी रखें। उन्होने कहा कि अगर कोरोना मरीजों की संख्या अधिक बढती है तो पूरे विशेष स्थान को कंटेन्टमंट जोन घोषित करें, पूरे क्षेत्र को लॉकडाउन करने की जरूरत नहीं है। कंटेन्टमेंन्ट घोषित क्षेत्र में कठोरता से निर्देशों का पालन करें। उन्होने कहा की इसके संक्रमण से बचाने के लिए वैक्सिनेशन बहुत कारगार साबित हो रहे हैं,इसलिए जिले के छूटे हुए अन्य नागरिकों को वैक्सिन लगाए। शहर से लेकर गांवों में मास्क अनिवार्यता करे। बड़-हॉट बजारों में भी मास्क अनिवार्य करे। उन्होने कि इस तीसरी लहर से निपटने के लिए जिले के सभी आश्रम, छात्रावासों, स्कूलों को क्वारेटाईन सेन्टर अथवा कोविड केयर सेंटर के रूप में चिन्हांकित करे। जिले के सभी सामुदायिक, प्राथमिक,व उपस्वास्थ्य केन्द्रों को मिशनमोड पर लाए। सभी आवश्यक तैयारियां रखें। उन्होने नागरिकों से यह भी अपील की है कि कोई भी नागरिक स्वयं से कोई भी दवाई का सेवन ना करे।

प्रभारी मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व मे प्रदेश सरकार द्वारा कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। सिंहदेव ने आम नागरिकों से अपील करते हुए कहा कि भीड़-भाड़ वाली जगहों मे जाने से बचें, मास्क एवं सोशल डिस्टेंस का पालन करें। अति आवश्यक होने पर ही घर से निकलें। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि प्रदेश मे फिलहाल लॉकडाउन लगाने की नौबत नही आयेगी। आर्थिक गतिविधियां जिसमें व्यवसाय व्यापार सतत् रुप से जारी रहेगी। प्रभारी मंत्री ने जिले के आला अधिकारियों को निर्देश दिए कि जमा खोरी को बढ़ावा न मिले और वस्तुओं के दाम लोगों को पूर्व की भांति मिले। कलेक्टर ने खाद्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए है कि इस पर सतत निगरानी रखें। खाद्य विभाग का अमला किसी भी वस्तु का कृत्रिम संकट पैदा न हो इसका विशेष ध्यान रखें।

स्वास्थ्य मंत्री ने समाज सेवी संगठनों से आव्हान किया है कि वे कोरोना की संभावित तीसरी लहर से निपटने के लिए जिला प्रशासन को मदद के लिए हमेशा तत्पर रहें। जिस प्रकार समाज सेवी संस्थाओं ने पहली एवं दूसरी लहर मे दिल खोलकर उदार मन से सेवा की थी, विभिन्न सामाजिक संगठनों ने अपना योगदान दिया था वे जिला प्रशासन से संपर्क कर सहयोग दे सकते हैं। हमें कोरोना के तीसरे लहर के फैलाव को पूरी तरह रोकना है। प्रभारी मंत्री ने यह भी कहा कि आम नागरिक अपने और अपने परिवार को सुरक्षित रखते हुए काम करें। नगरीय निकायों की भी इस कार्य मे महत्वपूर्ण भूमिका (रोल) है। पहली एवं दूसरी लहर से सबक लेते हुए शासन द्वारा जारी कोरोना गाइड लाइन का पालन करें।



 

About newscg9

newscg9

Check Also

लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल सहकारी शक्कर कारखाना पंडरिया में गन्ना उत्पादक किसानों को बड़ी राहत,10.43 करोड़ किसानों को गन्ना भुगतान ज़ारी किया गया

कवर्धा, 28 अगस्त 2022। गन्ने की रिकवरी दर में राष्ट्रीय स्तर पर कीर्तिमान बनाने वाली …

Leave a Reply

Your email address will not be published.