Breaking News

कबीरधाम: पंजीकृत सभी किसानों से होगी धान खरीदी, दो दिनों में जिले में 7 हजार किसानों से लगभग 2 लाख क्विंटल धान की खरीदी

कलेक्टर ने कहा:- धान खरीदी कार्यों में व्यवधान किसानों के हित में नही, संबंधित किसान आवेदन करें, सर्व प्राथमिकता में जांच कराकर समस्याओ का निराकरण किया जाएगा

कवर्धा l 3 दिसम्बर 2020। राज्य शासन के निर्देश पर कबीरधाम के 94 धान खरीदी केन्द्रो में समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी शुरू हो गई है। जिले में धान खरीदी के दूसरे 3 हजार 784 किसानों से 1 लाख 981 क्विंटल धान की खरीदी की गई है। जिले में दो दिनों में 7 हजार 393 पंजीकृत किसानों से लगभग 2 लाख क्विंटल धान की खरीदी कर ली गई है।

कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा ने कहा कि राज्य शासन द्वारा धान खरीदी के लिए निर्धारित दो माह की समयावधि में जिले के सभी पंजीकृत किसानों से धान की खरीदी की जाएगी। कलेक्टर शर्मा ने सभी किसानों से अपील करते हुए कहा कि सभी किसानों से धान खरीदी आसानी किया जा सके इसके लिए जिले के सभी 94 धान खरीदी केंद्रों में अलग-अलग तिथियों में अलग-अलग ग्राम के किसानों को टोकन जारी करने की व्यवस्था बनाई गई है। पंजीकृत किसान धान खरीदी के लिए बनाई गई इस व्यवस्था का पालन करें और अपने निर्धारित तिथियों में टोकन प्राप्त कर सकते है। उन्होंने कहा कि अगर किसी पंजीकृत किसानों को धान बेचने में यहाँ उनके पंजीयन संबधित किसी भी प्रकार की कोई समस्या आ रही है, ऐसी स्थिति में संबंधित तहसील कार्यालय में अपने लिखित आवेदन कर सकते है। लिखित आवेदनों पर जांच की जाएगी और हर संभव किसानों की समस्याओं का समाधान किया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि धान खरीदी के पारदर्शिता लाने के लिए जिले में फ़सलों के रकबों के आधार पर गिरदावरी जाँच की है। तहसील स्तर पर गिरदावरी की त्रुटि सुधार के लिए 20 सितम्बर तक दावा-आपत्ति आमन्त्रित किया गया था। प्राप्त दावा-आपत्ति पर 30 नवम्बर तक त्रुटि सुधार की कार्यवाही की गई है। अवधि में किसानों से प्राप्त सभी दावा-आपत्तियों को स्वीकार करते हुए त्रुटि सुधार की कार्यवाही की गई है। धान खरीदी का कार्य बड़ी सहजता तथा व्यवस्थित ढंग से धान की खरीदी की जा रही है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर किसानों के लिए धान बेचने में और सुविधा में बढ़ोतरी करते हुए जिले में 30 नए समिति और 8 नए धान उपार्जन केंद्र बनाए गए है।

कलेक्टर शर्मा ने कहा है कि धान खरीदी कार्य को बाधित करना किसानों के हित में उचित नही है, क्योकि धान खरीदी के लिए किसानों को और सुविधा देते हुए पहले टोकन जारी किए जा रहे है। धान खरीदी कार्य में पूरी पारदर्शिता रखी जा रही है। निर्धारित तिथियों में धान खरीदी कर ऑनलाइन वेबसाइट (पोर्टल) पर अपलोड किए जाते है, ऐसी परिस्थितियों में अगर एक दिन की धान खरीदी में व्यवधान उत्पन्न होता है तो आगामी तीन दिवस का कार्य प्रभावित हो जाता है। कलेक्टर शर्मा ने किसानों से पुनः अपील करते हुए कहा है की किसी भी किसानों को गिरदावरी संबंधित कोई त्रुटि हो या उन्हें धान बेचने में कोई समस्या आ रही है ऐसे किसान धान खरीदी कार्यों को प्रभावित किए बिना संबधित तहसील कार्यालय में अपना आवेदन कर सकते है। ऐसे आवेदनों पर विधिवत जांच परीक्षण कराया जाएगा और सभी समस्याओं को सर्वप्रथमिकता में निराकरण की कार्यवाही की जाएगी।



About newscg9

newscg9

Check Also

कलेक्टर ने विशेष पिछड़ी जनजाति बैगा छात्रावास के बच्चों से चर्चा कर पढ़ाई और भोजन व्यवस्था की ली जानकारी एवं स्वामी आत्मानंद स्कूल का किया निरीक्षण

कलेक्टर जनमेजय महोबे ने लैब, ऑडिटोरियम, आईटी रूम, लाइब्रेरी, क्लासरूम, खेल मैदान, शौचालय की गुणवत्ता …