Breaking News

प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) शांतुदास अब सुकुन की नींद सो रहा है पक्के मकान मे महल हो या झोपड़ी अपना घर अपना होता है

बेमेतरा । 26 सितम्बर 2020- महल हो या झोपड़ी अपना घर अपना होता है, हर व्यक्ति का एक सपना होता है कि छांव के लिए उसका एक खुद का घर हो। इसी सपने को सरकार द्वारा साकार किया जा रहा है। अनुसुचित जाति वर्ग के  58 साल के शांतु देशलहरे अब खुद के पक्के मकान में रहकर सुकुन की नींद ले रहा है। प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) गरीब परिवारों के लिए लाभकारी सिद्ध हो रही है। शासन की इस महती योजना से लाभान्वित नगर पालिका परिषद बेमेतरा के वार्ड क्र.12 सिघौरी निवासी भूमिहीन शांतु दास का पक्के मकान का सपना प्रधानमंत्री आवास योजना से साकार हुआ है। शासन की इस योजना से लाभ पाकर शांतुदास बहुत खुश हैं। उल्लेखनीय है कि मेहनत मजदूरी से जीवन यापन करने वाला यह परिवार पहले खपरैल के कच्चे घर में रहता था। इस परिवार के सदस्यों ने कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि उनका खुद का एक पक्का मकान होगा। अब उनका सपना प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना की वजह से हकीकत बन गया है। मिट्टी और खपरैल की छत वाले मकान में रहने वाला शांतु दास अब सीमेंट कांक्रीट की छत वाले मकान का मालिक बन गया है। उन्होने बताया कि पहले कच्चे मकान की वजह से उन्हे बारिश ऋतु मे काफी दिक्कत होती थी। सरकार से आवास बनाने के लिए उन्हें 02 लाख 29 हजार रुपए की राशि स्वीकृत की गई थी। उनके घर में शौचालय भी बन गया है। उन्होंने केन्द्र एवं राज्य शासन के इस महती योजना के बारे में बताते हुए कहा कि हम जैसे गरीब परिवारों के लोगों के लिए यह योजना काफी सहारा बन कर आई है, जिसके कारण हमें पक्का मकान दिया गया है। शांतुदास देशलहरे ने नगर पालिका अध्यक्ष श्रीमती शकुन्तला मंगत साहू एवं जिला प्रशासन के प्रति प्रधानमंत्री आवास योजना अंतर्गत पक्का आवास का लाभ मिलने पर आभार व्यक्त किया है। 



 

About newscg9

newscg9

Check Also

कलेक्टर ने विशेष पिछड़ी जनजाति बैगा छात्रावास के बच्चों से चर्चा कर पढ़ाई और भोजन व्यवस्था की ली जानकारी एवं स्वामी आत्मानंद स्कूल का किया निरीक्षण

कलेक्टर जनमेजय महोबे ने लैब, ऑडिटोरियम, आईटी रूम, लाइब्रेरी, क्लासरूम, खेल मैदान, शौचालय की गुणवत्ता …