Breaking News

अनुसंधान दल ने जिले के विशेष पिछड़ी जनजाति ”बैगा” समाज प्रमुखों की बैठक ली

कवर्धा । 05 सितम्बर 2020। छत्तीसगढ शासन आदिम जाति तथा अनुसूचित जाति विकास विभाग मंत्रालय महानदी भवन नवा रायपुर के तहत् आदिम जाति अनुसंधान एवं प्रशिक्षण संथान नवा रायपुर के आदिवासी संग्रहालय में छत्तीसगढ़ राज्य के अनुसूचित जनजातियों विशेष कर पिछडी जनजातियों की जीवनशैली, रीति-रिवाज, वेश-भूषा, गहना, आखेट एवं विभिन्न त्यौहारों के अवसर पर किये जाने वाले अन्य सामाजिक गतिविधियों से संबंधित आर्टिफेक्टस संकलन के लिए अनुसंधान दल द्वारा शुक्रवार को कार्यालय कलेक्टर (आदिवासी विकास) में बैठक आयोजित किया गया।

बैठक में सहायक आयुक्त की अध्यक्षता में एवं अनुसंधान दल   मोहन साहू, ईश्वर साहू, आनंद सिंह परमार, भूषण सिंह नेताम, बैगा समाज प्रमुख ईतवरी बैगा एवं  लमतू बैगा एवं अन्य 40 बैगा प्रमुख सदस्य और गोंड समाज से आसकरण धुर्वे, अंजोर सिंह धुर्वे, डॉ.संतोष धुर्वे एवं अन्य 25 सदस्य तथा छात्रावास, आश्रम के अधीक्षक उपस्थित थे। बैगा समाज प्रमुख के द्वारा अनुसंधान दलो को नवा रायपुर नृजातिय म्यूजियम के लिए आवश्यक जानकारी एवं किये जाने वाले प्रदर्शन सामाग्री उपलब्ध कराने के लिए समाज प्रमुख को सूची उपलब्ध कराने को कहा गया है। अनुसंधान दल द्वारा सभी समाज प्रमुखो को भरोसा दिलाया गया गया कि कोई भी जानकारी समाज प्रमुख की जानकारी के अनुसार संग्रहालय के लिए लिया जाएगा एवं सभी समाज प्रमुखों को आश्वसत किया गया कि कोई भी तथ्यात्मक जानकारी सही रूप में प्रेषित किया जाएगा।



 

About newscg9

newscg9

Check Also

कलेक्टर ने विशेष पिछड़ी जनजाति बैगा छात्रावास के बच्चों से चर्चा कर पढ़ाई और भोजन व्यवस्था की ली जानकारी एवं स्वामी आत्मानंद स्कूल का किया निरीक्षण

कलेक्टर जनमेजय महोबे ने लैब, ऑडिटोरियम, आईटी रूम, लाइब्रेरी, क्लासरूम, खेल मैदान, शौचालय की गुणवत्ता …