Breaking News

मंत्री मो.अकबर ने वर्चुअल कान्फ्रेसिंग से ली बैठकः सब्जी व मछली व्यापारियों से की सार्थक चर्चा फुटकर सब्जी व मछली व्यवसाय अभी यथा स्थान पर ही लगेगें

नगरीय क्षेत्र में चल रहे अस्थायी दखल फीस वसूली को बंद कराये जाने तथा संबंधित ठेकेदार की ठेका निरस्त किये जाने हेतु परिषद में प्रस्ताव पारित करें। ताकि लोगों राहत मिल सके।

कवर्धा – कैबिनेट मंत्री मो. अकबर ने कोरोना संक्रमण को देखते हुए कलेक्ट्रेट एन.आई.सी रूम में आज वर्चुअल विडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से फुटकर सब्जी एवं मछली व्यापारियों के प्रतिनिधियों से चर्चा कर उच्चाधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये एवं उनसे कोरोना संक्रमण से शहर को कैसे सुरक्षित रखा जाये, इसके लिए व्यापारियों से सुझाव भी लिये।

कैबिनेट मंत्री व विधायक कैबिनेट मंत्री मो.अकबर को सब्जी व्यापारी शंकर पटेल, शकील अहमद, मन्नू ठाकुर एवं हरी टोन्ड्रे तथा राजेश केशरवानी, गायत्री जोशी, संजीव कुर्रे ने अभी वर्तमान में फुटकर सब्जी विक्रेताओं को यथा स्थान में लगाने जाने हेतु अनुरोध किया। उन्होनें मंत्री जी को बताया कि लॉकडाउन में सभी का व्यवसाय प्रभावित रहा है नवीन बाजार के आसपास व्यवसाय करने से ही हम लोगों का व्यवसाय चल पाता है व्यापार अन्यत्र स्थानांतरण होने से काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। कैबिनेट मंत्री ने व्यापारियों के मांगो को गंभीरता से सुनकर कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा को निर्देशित किया कि वर्तमान में जिस स्थान पर सब्जी व मछली व्यवसायियों का व्यवसाय चलता रहा है अभी वर्तमान में उसी स्थान पर लगाने हेतु आदेश प्रसारित करें। उन्होनें यह भी निर्देशित किया कि कोरोना संक्रमण में लगातार इजाफा हो रहा है इसको ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार द्वारा जारी कोरोना गाईडलाईन का पालन कराये जाने भी कहा। ताकि हमारा शहर कोरोना संक्रमण से दूर रहे। सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क, सेनेटाईजर की अनिवार्यरता रखे। सुरक्षित ढंग से उनका व्यवसाय हो ऐसा प्रयास करें।

मछली व्यवसायियों ने नवीन बाजार में मांगे दुकान

मछली व्यवसायी मुकेश मल्लाह व दीनानाथ मल्लाह ने कैबिनेट मंत्री से अनुरोध करते हुए कहा कि हम सभी मल्लाह जाति से है हमारा मूल व्यवसाय मछली पालन है लेकिन विधिवत ढंग से नवीन बाजार में दुकान का आबंटन नही होने के कारण व्यवसाय करने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है नवीन बाजार में काम्पलेक्स विधिवत दुकान आबंटन कर दिया जाता है तो हमारा व्यवसाय बहुत ही अच्छा हो जायेगा। मंत्री ने उनके मांगो पर तत्काल संज्ञान लेते हुए मुख्य नगर पालिका अधिकारी नरेश वर्मा को निर्देशित करते हुए कहा कि उनके मांगो पर नियमानुसार कार्यवाही किये जाने को कहा। कार्यवाही पूर्ण उपरांत अवगत कराने हेतु निर्देश दिये।

कृषि उपज मंडी में अस्थायी सब्जी बाजार लगाने की मांग की

सब्जी व्यापारियों के प्रतिनिधियों ने कहा कि कोरोना संक्रमण के दौरान फुटकर सब्जी व्यापारियों को अलग-अलग जगह बिठाये जाने के कारण व्यवसाय प्रभावित होता है वर्तमान में कोरोना संक्रमण कम है तब तक यथा स्थान पर लगाने दिया जाये। कोरोना बढ़ने की स्थिति में पुराना कृषि उपज मंडी में सभी व्यापारियों को बिठाया जाये। ताकि हम सभी का व्यवसाय एक ही स्थान पर हो सके। मंत्री जी ने कलेक्टर को निर्देशित करते हुए कहा कि कृषि उपज मंडी में अस्थायी तौर पर सब्जी लगाये जाने हेतु सब्जी व्यापारियों से हस्ताक्षरयुक्त आवेदन प्राप्त करें तथा प्रस्ताव तैयार कर राज्य शासन को प्रेषित किया जावे। सहमति प्राप्त होने उपरांत सब्जी व्यापारियों को मंडी में शिफ्ट किया जाये। ताकि उनका व्यवसाय सुचारू रूप से चल सके।

अस्थायी दखल बंद करने व्यापारियों ने मंत्री से किया अनुरोध

व्यापारियों के प्रतिनिधि मंडल ने कहा कि नगर पालिका परिषद द्वारा ठेके के माध्यम से ठेकेदार द्वारा अस्थायी दखल फीस वसूली का कार्य कराया जाता है जिसे बंद कराये जाने की मांग रखी। उन्होने मंत्री जी से निवेदन किया कोरोना संक्रमण काल में सभी वर्गो की आर्थिक स्थिति खराब हुई है ऐसे में अस्थायी दखल वसूली कार्य बंद कराया जाये। उन्होनें संबंधित अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि नगरीय क्षेत्र में चल रहे अस्थायी दखल फीस वसूली को बंद कराये जाने तथा संबंधित ठेकेदार की ठेका निरस्त किये जाने हेतु परिषद में प्रस्ताव पारित करें। ताकि लोगों राहत मिल सके।

इस वर्चुअल मिटिंग में कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा, नगर पालिका अध्यक्ष ऋषि कुमार शर्मा, मोहित माहेश्वरी, अशोक सिंह, सुनील साहू, राजेश माखीाजनी, हिरेश चतुर्वेदी, मुख्य नगर पालिका अधिकारी नरेश कुमार वर्मा, कार्यपालन अभियंता एम.एल.कुर्रे, उपअभियंता विरेन्द्र नवघरे, रा.उ.नि. संतोष वानखेडे, सब्जी एवं मछली व्यापारियों के प्रतिनिधि मंडल उपस्थित थे।



 

About newscg9

newscg9

Check Also

लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल सहकारी शक्कर कारखाना पंडरिया में गन्ना उत्पादक किसानों को बड़ी राहत,10.43 करोड़ किसानों को गन्ना भुगतान ज़ारी किया गया

कवर्धा, 28 अगस्त 2022। गन्ने की रिकवरी दर में राष्ट्रीय स्तर पर कीर्तिमान बनाने वाली …

Leave a Reply

Your email address will not be published.