Breaking News

कबीरधाम जिले के किसानों के चेहरे आई मुस्कान, 63 हजार 542 किसानों ने बेचा तीन सौ 72 करोड़ 50 लाख रूपए का धान

किसानों ने माना इस बार धान खरीदी की व्यवस्था अच्छी, कलेक्टर ने कहा सभी पंजीकृत किसानों से होगी धान की खरीदी

जिले के 80 प्रतिशत छोटे किसानों से हुई धान की खरीदी, 10 से 20 एकड़ से अधिक बड़े किसानों ने बेचा 30 करोड़ रूपए का धान

कवर्धा l 25 दिसम्बर 2020। राज्य सरकार द्वारा खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 के लिए समर्थन मूल्य पर सभी पंजीकृत किसानों से सुव्यवस्थित और किसानों को सुविधाएं मुहैया कराते हुए कबीरधाम जिले के सभी 94 धान उपार्जन केन्द्रों में सुचारू रूप से धान की खरीदी की जा रही है। कबीरधाम जिले में महज 24 दिनों में ही 63 हजार 542 पंजीकृत किसानों से तीन सौ 72 करोड़ 50 लाख रूपए की लागत से 19 लाख 81 हजार 940 क्विंटल धान समर्थन मूल्य पर खरीदी कर ली गई है। किसानों को उनके बैंक खाते के माध्यम से सीधे राशि भूगतान भी किए जा रहे है। अधिकांश किसानों द्वारा बैंक खातों के माध्यम से राशि आहरण भी कर लिया गया है।

कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा के निर्देश पर बनाए गए धान खरीदी की वर्क प्लान के आधार पर अब तक ढाई से पांच एकड़ तक पंजीकृत लगभग 70 प्रतिशत किसानों ने अपना धान एक बार में ही तीन सौ करोड़ रूपए का धान बेच लिया है। धान बेचने आए जिले के े किसानां ने इस बार की धान खरीदी व्यवस्था की तारीफ की। किसानों के चेहते में धान खरीदी व्यवस्था को लेकर संतुष्टि नजर आए है।

खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 में समर्थन मूल्य पर धान खरीदी 24 दिन पूरे हो गए है। इस समिति दिनों में जिले के सभी 94 धान खरीदी केन्द्रों में उनके पंजीकृत किसानों से धान की खरीदी के लिए अग्रिम टोकन जारी किए जा रहे है, ताकि पंजीकृत किसानों को किसी भी प्रकार की कोई परेशानी ना हो और सभी पंजीकृत किसानो से धान सुचारू से धान की खरीदी की जा सके।

धान खरीदी के जिला नोडल अधिकारी एवं डिप्टी कलेक्टर श्री संदीप सिंह ठाकुर ने बताया कि कलेक्टर के निर्देश पर जिले में सुचारू से से धान की खरीदी की जा रही है। पंजीकृत किसानों को धान बेचने में किसी भी प्रकार की कोई परेशानी ना हो इसके लिए सभी व्यवस्थाएं बनाई जा रही है। कबीरधाम जिले में समर्थन मूल्य पर धान बेचने के लिए 1 लाख 711 किसानों ने अपना पंजीयन कराया है। ढाई एकड़ तक कुल पंजीकृत किसानों की संख्या 64 हजार 90 है, जिसमें से अब तक 42 हजार 557 किसानों से 150 करोड़ रूपए के 795500 कि्ंवटल धान की खरीदी कर ली गई है। इसी प्रकार ढाई एकड से पांच एकड़ तक रकबा वाले कुल पंजीकृत किसान 24 हजार 878 है, जिसमें से 14 हजार 659 किसानों से 132 करोड़ रूपए के 702070 क्विंटल की धान की खरीदी पूरी कर ली गई है। पांच एकड से 10 एकड़ तक रकबा वाले कुल पंजीकृत किसान 9 हजार 38 है, जिसमें से 4 हजार 815 किसानों से 61 करोड़ रूपए के 323470 किवंटल की धान की खरीदी पूरी कर ली गई है। 10 से 20 एकड़ तक रकबा वाले कुल पंजीकृत किसान 2330 है, जिसमेंं से 1307 किसानों से 23 करोड़ रूपए के 126650 क्विंटल की धान की खरीदी पूरी कर ली गई है। जिले में 20 एकड़ से अधिक रकबा वाले पंजीकृत किसान 375 है, जिसमंसे 204 किसानों से 6,50 करोड़ रूपए के 34180 क्विंटल धान की खरीदी पूरी कर ली गई है। इस तरह जिले में अब तक 63 हजार 542 पंजीकृत किसानों से 372 करोड़ 50 लाख रूपए की लागत से समर्थन मूल्य पर 19 लाख 81 हजार 940 कि्ंवटल धान की खरीदी पूरी कर ली गई है।

किसान भी प्रकार के अफवाहें में ना आएं, सभी पंजीकृत किसानों से होगी धान की खरीदी – कलेक्टर

कलेक्टर  रमेश कुमार शर्मा ने कहा कि राज्य शासन के दिशा-निर्देशों के अनुरूप सभी किसानों से समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी सुचारू एवं सुव्यवस्थित ढंग से संपादित हो सके इसके लिए पूरी व्यवस्थाएं बनाई गई है। धान खरीदी संबंधित किसी किसी भी अफवाओं पर यकिन ना करें। राज्य शासन की मंशा पूरी तरह से स्पष्ट है, सभी पंजीकृत किसानों से धान की खरीदी की जाएगी। किसानों की सुविधाओं के लिए उन्हे दिन और तिथी निर्धारित करते हुए टोकन जारी किए जा रहे है।



About newscg9

newscg9

Check Also

कलेक्टर ने विशेष पिछड़ी जनजाति बैगा छात्रावास के बच्चों से चर्चा कर पढ़ाई और भोजन व्यवस्था की ली जानकारी एवं स्वामी आत्मानंद स्कूल का किया निरीक्षण

कलेक्टर जनमेजय महोबे ने लैब, ऑडिटोरियम, आईटी रूम, लाइब्रेरी, क्लासरूम, खेल मैदान, शौचालय की गुणवत्ता …