Breaking News

जिला कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा ने जिलेवासियों से कन्टेन्टमेंट हटने के बाद भी अनुशासन बनाए रखने की अपील की।

कवर्धा। 28 सितंबर 2020 कोरोना के बढ़ते प्रकरणों को रोकने के उद्देश्य से जिले के बहुत से क्षेत्रों को कन्टेन्टमेंट जोन घोषित किया गया है। जिला कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा ने इन क्षेत्रों को अब पुनः सुचारू रूप से खोलने सबंधी संकेत दिए हैं। लेकिन इसके पहले जिले भर में सर्वे कराया जा रहा है।

वार्डवार जारी हेल्थ सर्वे की रिपोर्ट के आधार पर हटाया जाएगा कन्टेन्टमेंट जोन

 उन्होंने स्पष्ट किया है कि जिले भर में वार्डवार हेल्थ सर्वे कराया जा रहा है, जिसमें कोरोना के लक्षण वाले व गम्भीर बीमारियों से ग्रसित लोगों की जानकारी लेकर जांच किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जिन वार्डों में कोरोना के प्रकरण बहुतायत पाए गए वहां कन्टेन्टमेंट जोन घोषित करने के बाद स्थितियों में काफी सुधार देखने को मिला है व कोरोना के पॉजिटिव प्रकरणों में कमी आई है। उन्होंने स्पष्ट किया कि जिले के उन्ही क्षेत्रों में कन्टेन्टमेंट जोन हटाया जाएगा जहां कोरोना के प्रकरण ज्यादा नही होंगे। शर्मा ने बताया कि लॉक डाउन हटने के बाद शुरुआत में लोग नियमों का पालन करते रहे, लेकिन धीरे-धीरे कोरोना से बचाव सम्बन्धी एहतियात में लापरवाहियां बढ़ी जिसके कारण जिले में कोरोना संक्रमण का ग्राफ काफी तेजी से बढ़ा जिसके कारण ज्यादा संक्रमित क्षेत्रों को पुनः कन्टेन्टमेंट जोन घोषित करना पड़ा। उन्होंने आमजन से अनुरोध किया कि यदि पूर्व की भांति सुचारू व्यवस्थाएं चाहिए तो लापरवाहियां छोड़नी होगी और कोरोना नियंत्रण हेतु शासन-प्रशासन द्वारा बताए गए उपायों का सख्ती से पालन करना होगा। यदि लापरवाही की गई तो कोरोना का संक्रमण बढ़ने का खतरा होगा और पुनः कन्टेन्टमेंट जोन घोषित करना पड़ जाएगा।

सतर्क रहें, नियमों को जानें और करें पालन

कलेक्टर शर्मा ने जनता से अपील की है कि बाजार खुलने के बाद अधिक भीड़ न करें। सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन करें। जरूरी है कि बिना वजह घर से बाहर न निकलें, यदि अधिक आवश्यक होने पर घर से बाहर निकलना पड़े तो सही तरीके से नाक व मुह को ढककर , मास्क लगाकर ही निकलें। बाहर निकलने के बाद बार-बार मास्क को हाथ न लगाएं। नाक, मुह और आंख को छूने से बचें। भीड़ वाली जगहों पर न जाएं व लोगों से दो गज की दूरी बनाकर चलें। मास्क उतारने से पहले अच्छी तरह से हाथ धोएं अथवा सेनेटाइज करें। लक्षण आने पर तत्काल कोरोना टेस्ट कराएं व आइसोलेट रहें। उन्होंने लोगों से स्वास्थ्य जांच दल से अपनी कोई भी शारीरिक स्थिति न छुपाते हुए सही-सही जानकारी देने की अपील भी की। इससे सही समय पर जांच करके जानें बचाई जा सकेंगी। उन्होंने जिले में कोरोना से हुई असामयिक निधन के बारे में बताया कि अब तक जिले में 14 लोगों की कोरोना के चलते मौत हो चुकी है।

व्यापारियों से नियमों का पालन करने की अपील

जिलाधीश शर्मा ने कहा कि कोरोना नियंत्रण के लिए लगातार दुकानें बंद रखना उचित नही होगा अतः जनता को स्वयं जागरूक रहकर कार्य करना होगा। शर्मा ने जिले के व्यापारियों से भी आग्रह किया है कि दुकान में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराएं व मास्क के बिना किसी को भी प्रवेश न दें। अपनी दुकान में उतने ही लोगों को प्रवेश दें जितने लोगों को दो गज की दूरी बनाकर रहते बने। दुकान के बाहर यथासम्भव हैंडवाश अथवा सेनेटाइजर की व्यवस्था रखें। उन्होंने कहा कि व्यापारियों को स्वयं भी यह सुनिश्चित करना होगा कि वे व्यापार कार्यों से जिले के अन्य क्षेत्रों अथवा जिले के बाहर जाएं तो कोरोना नियंत्रण के नियमों का कड़ाई से पालन करें। कोरोना का संक्रमण रोकने के लिए दुकानों में कार्यरत कर्मचारियों द्वारा भी एहतियात बरता जाना जरूरी है। यह दुकान मालिक की जिम्मेदारी बनती है कि वे अपने कर्मचारियों से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराएं व मास्क लगवाएं। कलेक्टर शर्मा ने कहा कि कोरोना को हराने के लिए सबका सामूहिक प्रयास ही कारगर होगा और जब तक सभी व्यक्ति इस दिशा में जागरूक व नियमों के पालन के लिए गम्भीर नही होंगे तब तक इस बीमारी के संक्रमण को रोकना कठिन होगा। उन्होंने उन तमाम व्यापारियों को धन्यवाद दिया जिन्होंने कोरोना नियंत्रण हेतु जिला प्रशासन का साथ दिया व कन्टेन्टमेंट हटने के बाद भी कोरोना नियमों का पालन करके साथ देंगे इस बात की उन्होंने उम्मीद जताई है।



 

About newscg9

newscg9

Check Also

कलेक्टर ने विशेष पिछड़ी जनजाति बैगा छात्रावास के बच्चों से चर्चा कर पढ़ाई और भोजन व्यवस्था की ली जानकारी एवं स्वामी आत्मानंद स्कूल का किया निरीक्षण

कलेक्टर जनमेजय महोबे ने लैब, ऑडिटोरियम, आईटी रूम, लाइब्रेरी, क्लासरूम, खेल मैदान, शौचालय की गुणवत्ता …