Breaking News

कवर्धा नगर पालिका सफलता के एक वर्ष पूरे हुये…नपाध्यक्ष ने आम जनताओं का माना आभार ऋषि कुमार शर्मा

कवर्धा – नगर पालिका अध्यक्ष ऋषि कुमार शर्मा ने अपने एक वर्ष का कार्यकाल पूर्ण कर लिया है सफलता के एक वर्ष के लिए उन्होनें कवर्धा की जनता, कैबिनेट मंत्री व विधायक अकबर भैया, पालिका टीम का आभार मानते हुए जिस विश्वास व भरोसा के साथ नगर पालिका अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी प्रदान किया, उस जिम्मेदारी पर खरा उतरते हुए अपने टीम के साथ कोरोना संक्रमण काल के दौरान भी विकास करने में पीछे नही रहे। उन्होनें वार्डो में मूलभूत सुविधाओं के साथ-साथ जनताओं की छोटी-छोटी समस्याओं को सुलझाने प्रयास किया।

चैक-चैराहों बिखरी रौषनी

नगर पालिका अध्यक्ष ऋषि कुमार शर्मा ने कहा कि नगरवासियों के मांग अनुरूप शहर के 25 स्थानों का सोलर हाईमास्ट लगाये जाने का प्रस्ताव तैयार कर क्रेडा विभाग को प्रेषित किया गया था जिस पर माननीय मंत्री अकबर भाई के मंशानुसार सभी स्थानों पर सोलर हाईमास्ट लगाये जाने की स्वीकृति प्राप्त होकर कार्य लगभग पूर्ण हो चुका है उक्त लाईट सोलर हाईमास्ट सौर उर्जा से संचालित होगा। इस पर किसी प्रकार का बिजली व्यय नही होगा। सोलर हाईमास्ट संयत्र की स्थापना से कवर्धा शहर का हर चैक-चैराहा रौशन रहेगा। शहर के ऐसे बहुत सारे चैक चैराहे जहां पर अंधेरा रहता है उस अंधेरे को दूर करने हेतु नगर पालिका द्वारा हर संभव प्रयास किया गया।

शहर के सभी डिवाईडरों में लगा आकर्षक रंग-बिरंगी लाईट
कवर्धा शहर की सुंदरता बढ़ाने के लिए महानगरों की तर्ज पर शहर के प्रमुख मार्गो में निर्मित डिवाईडरों मे रंग-बिरंगी लाईट लगाया गया। रायपुर मार्ग, बिलासपुर मार्ग, राजनांदगांव एवं कलेक्टर कार्यालय मार्ग के सभी डिवाईडरों में रंग-बिरंगी लाईट लग जाने से शहर की सुंदरता बढ़ी है आकर्षक लाईट लगने से अन्य राज्यों व जिलो से आने वाले व्यक्ति कवर्धा शहर की खूबसूरती को सराहा है।

जल आवर्धन के कार्य होगें पूरे

नगर पालिका द्वारा जल आवर्धन विस्तारीकरण योजनांतर्गत 26 करोड़ 85 लाख रूपये की लागत से जल शुद्विकरण संयंत्र के साथ-साथ 4 स्थानों पर क्रमशः हाईटेक बस स्टैण्ड के पास क्षमता-6.20 लाख लीटर, कलेक्टर कालोनी परिसर क्षमता 7.20 लाख लीटर, बुढ़ामहोदव मंदिर के पास क्षमता 8.20 लाख लीटर, नगर पालिका कार्यालय के सामने क्षमता 9.60 लाख लीटर का ओव्हर हैड टैंक निर्माण, 27.72 कि.मी. पाईन लाईन विस्तारी कार्य सहित अन्य कार्य किया जा रहा है कोरोना संक्रमण काल के दौरान कार्य में विलंब हुआ है जिसका समयवृद्वि करते हुए अतिरिक्त समय दिया गया है इस वर्ष अपै्रल-मई तक कार्य पूर्ण हो जायेगा। कवर्धा शहर की जनताओं को पानी की समस्या से हमेशा के लिए निजात मिल जायेगा ।

हाईटेक बस स्टैण्ड का होगा शुभारंभ

 

कवर्धा शहर की बढ़ती आबादी के कारण शहर से 3 किलोमीटर दूर लगभग 10 करोड़ की लागत से हाईटेक बस स्टैण्ड का निर्माण किया गया है बस स्टैण्ड का निर्माण कार्य अंतिम चरण में है हाईटेक बस स्टैण्ड प्रारंभ हो जाने से शहर में यातायात दबाव कम होगा। हाईटेक बस स्टैण्ड में सभी प्रकार की सुविधाओं का लाभ मिलेगा। कवर्धा शहर से हाईटेक बस स्टैण्ड जाने वाले घोठिया मार्ग का चैड़ीकरण किया जाना है एक ही मार्ग में ज्यादा दबाव न हो इसके अलावा राजनांदगांव मार्ग पीलारी नहर वाला मार्ग भी प्रस्तावित है।

कोरोना संक्रमण में बेहतर विकास कार्य

अध्यक्ष पद कार्यकाल को दो महिना ही बीता था कि कोरोना संक्रमण काल शुरू हो गया। कोरोना संक्रमण काल में भी अभूत पूर्व विकास करने का प्रयास किया। सीसी रोड़, नाली निर्माण के अलावा कोरोनो संक्रमण से बचने व लोगों में जागरूकता लाने हेतु वार्डो में प्रचार-प्रसार के साथ-साथ 50 हजार से अधिक मास्क का वितरण कराया गया। वार्डो की सफाई व्यवस्था पूर्ण रूप से किया गया। वार्डो की सफाई व्यवस्था के साथ-साथ सैनेटाईज भी किया गया। ताकि लोग सुरक्षित रह सके।
500 से अधिक लोगों को सीधी मदन

नगर पालिका अध्यक्ष ऋषि कुमार शर्मा ने बताया कि कवर्धा विधायक व कैबिनेट मंत्री अकबर भाई द्वारा कोरोना संकटकाल और लाॅकडाउन से प्रभावित शहर के फुटपाथ पथ विक्रेता, नाई, मोची, ई-रिक्शा चालक, आॅटो चालक सहित अन्य व्यक्तियों की पीड़ा को समझते हुए उनके पैतृक व्यवसाय को पुनः प्रारंभ करने के लिए 500 से अधिक लोगों के जीवीकोपार्जन में सहयोग कर 5000-5000 हजार रू. का सीधा मदद पहुंचाया है।

पेयजल व स्वास्थ्य पर फोकस

नगर पालिका अध्यक्ष ने अपने दायित्वों का प्रभार संभालते ही स्वास्थ्य व पेयजल पर फोकस किया। उन्होनें सबसे पहले फिल्टर प्लांट व पानी टंकियों का निरीक्षण करने पहुंचे थे पूर्ववर्ती कार्यकाल की पेयजल व स्वास्थ्य समस्या को दूर करने अथक प्रयास किया। फिल्टर प्लांट में कर्मचारियों की तैनाती के अलावा समय-समय एलम, ब्लचिंग का उपयोग किये जाने हेतु निर्देशित करते रहे। इसका परिणाम आज यह हुआ कि विगत 1 वर्ष में गंदे पेयजल की शिकायतें सामने नही आया। स्वाथ्य विभाग की सफाई व्यवस्था को लेकर भी सुबह से माॅनिटरिंग करते है एक वर्ष में पेयजल व्यवस्था, सफाई व्यवस्था, विद्युत समस्या को लेकर प्राप्त आॅनलाईन शिकायतों का भी समय-सीमा में निराकरण किया गया।

योजनाओं को मिला लाभ

नगर पालिका परिषद कवर्धा में राज्य सरकार के विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं का संचालन किया जा रहा है वार्ड के जरूरतमंद व्यक्तियों को उनका लाभ दिया गया। विगत 1 वर्ष में वृद्वावस्था पेंशन के 63, विधवा पेंशन योजना 31, सामाजिक सुरक्षा पेंशन के 10, सुखद सहारा योजना के 15, मुख्यमंत्री पेंशन योजना के 3 एवं परिवार के कमाने वाले मुखिया के मृत्यु हो जाने से राष्ट्रीय परिवार सहायता योजनांतर्गत 72 व गरीबी रेखा अंतर्गत जीवन यापन करने वाले परिवार के सदस्य के मृत्यु होने उपरांत श्रद्वांजलि योजनांतर्गत दाह संस्कार हेतु 210 लोगों को 2000 रूपये का तात्कालिक सहयोग राशि के रूप में प्रदान किया गया है।

स्वच्छता व प्रधानमंत्री आवास के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार

नगर पालिका अध्यक्ष ऋषि कुमार शर्मा ने बताया कि राष्ट्रीय स्तर स्वच्छता के क्षेत्र में और देश के सर्वश्रेष्ठ प्रधानमंत्री आवास निर्माण हेतु नगर पालिक कवर्धा मिले यह सम्मान शहर के लिए गौरव का विषय है इसका पूरा श्रेय पूरा कवर्धावासियों को जाता है। उन्होनें कहा कि शहर की जनता की भागीदारी के साथ-साथ पालिका अधिकारी-कर्मचारी व स्वच्छता के कार्य में लगे स्वच्छता मित्रों का महत्तवपूर्ण योगदान है। इस महत्तवपूर्ण उपलब्धि के लिए शहरवासियों का आभार माना। नगर पालिका अध्यक्ष ने बताया कि कवर्धावासियों ने स्वच्छता के प्रति अपने कर्तव्यों का बखूबी निर्वहन किया है इसी का परिणाम है कि स्वच्छता के क्षेत्र में नगर पालिका कवर्धा ने पूरे भारत में अग्रणी स्थान बनाया है। स्वच्छता व प्रधानमंत्री आवास में नगर पालिका परिषद कवर्धा को प्राप्त हुए श्रेष्ठ आवास निर्माण सम्मान से कवर्धा शहर के साथ-साथ पूरे छत्तीसगढ़ का नाम भारत में रौशन हुआ है।
नगर पालिका बिल्डिंग का किया नामकरण

नगर पालिका परिषद कवर्धा भवन का निर्माण होने के बाद से आज तक नामकरण नही हुआ था जिसका नामकरण किये जाने हेतु नगर पालिका अध्यक्ष ऋषि कुमार शर्मा ने भवन का नाम भारत की प्रथम महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी जी के नाम पर ‘‘इंदिरा भवन‘‘, वार्ड क्रं. 08 में नवनिर्मित गार्डन का नाम ‘‘राजीव पार्क‘‘ एवं आचार्य पं. श्री गृंधमुनि नाम साहेब शासकीय महाविद्यालय से लेकर आदिवासी मंगल भवन मार्ग का नाम ‘‘विद्या पथ‘‘ रखा गया है।

सामान्य सम्मेलन के 4 तो पी.आई.सी. के हुए 14 बैठक
नगर पालिका अध्यक्षीय कार्यकाल में विकास कार्याे के एजेंडे को लेकर पीआईसी कैबिनेट के 14 बैठक तो सामान्य सभा के 4 बैठक आयोजित किया। प्रेसीडेंट इन काउंसिल की 14 बैठक में 753 प्रस्ताव तो परिषद की 4 बैठक में 64 प्रस्ताव पर मुहर लगाया गया है। आयोजित बैठक में महत्तवपूर्ण विकास एजेंडे को लाया गया। सभी प्रस्तावों पर मुहर लगाकर कार्य प्रारंभ किया गया है तथा राज्य शासन स्तर के प्रस्ताव को राशि मांग हेतु शासन को प्रेषित किया गया। राशि प्राप्त होने उपरांत शहर विकास में नये सोपान तय करेगें।

कवर्धा शहर के संपूर्ण विकास के लिए माननीय विधायक व कैबिनेट मंत्री अकबर भाई, पार्षदगण एवं कवर्धा शहर के नागरिको का आभार व्यक्त करते हुए आगे भी सहयोग की अपेक्षा रखूंगा ताकि उत्कृष्ट कार्य किया जा सके।
इस वर्ष की प्रस्तावित कार्य
1. राजनांदगांव रोड़ से पिलारी नहर, शांतिदीप राईस मिल से होते हुए नवीन बाजार तक रोड़ एवं पाथवे निर्माण हेतु-राशि 735.06 लाख रू.
2. नरवा, गरूवा, घुरूवा, बाड़ी योजनांतर्गत सरदार पटेल मैदान के पास यूथ क्लब भवन के पीछे गौठान निर्माण कार्य-राशि 19.11 लाख रू.
3. राजनांदगांव मार्ग में मुक्तिधाम से स्वर्ण जयंती कालोनी तक सड़क चैड़ीकरण एवं डिवाईडर कार्य कराये जाने हेतु अनुमानित लागत-राशि 162.00 लाख रू.
4. राजनांदगांव मार्ग में स्वर्ण जयंती कालोनी से राजनांदगांव तिराहा (ठाठ होटल) तक सड़क चैड़ीकरण एवं डिवाईडर कार्य कराये जाने हेतु अनुमानित लागत-राशि 82.00 लाख रू.
5. बिलासपुर रोड़ में काली मंदिर मार्ग से लेकर मिनीमाता चैक तक डिवाईडर कार्य कराये जाने हेतु अनुमानित लागत-राशि 66.04 लाख रू.
6. बिलासपुर रोड़ में सकरी नदी से लेकर ट्रांसपोर्ट नगर तक सड़क चैडीकरण एवं डिवाईडर कार्य कराये जाने हेतु अनुमानित लागत-राशि 44.00 लाख रू.
7. रायपुर रोड़ तिराहा बायपास से गुरूनाला तक सड़क चैडीकरण, डिवाईडर एवं प्रवेश द्वार निर्माण कार्य कराये जाने हेतु अनुमानित लागत-राशि 38.00 लाख रू.
8. शहर के चार प्रमुख मार्गो में 4 नग लोहे का प्रवेश द्वार निर्माण कार्य कराये जाने हेतु अनुमानित लागत-राशि 24.00 लाख रू.
9. भंडारी तालाब सौंदर्यीकरण कार्य कराये जाने हेतु अनुमानित लागत-राशि 40.00 लाख रू.
10. वीर स्तंभ (सिग्नल) चैक के चारो दिशाओं मंे शेड निर्माण कार्य कराये जाने हेतु अनुमानित लागत-राशि 85.00 लाख रू.
11. वन विभाग कार्यालय के सामने रिक्त भूमि पर चैपाटी निर्माण कार्य कराये जाने हेतु अनुमानित लागत-राशि 20.00 लाख रू.



About newscg9

newscg9

Check Also

कलेक्टर ने विशेष पिछड़ी जनजाति बैगा छात्रावास के बच्चों से चर्चा कर पढ़ाई और भोजन व्यवस्था की ली जानकारी एवं स्वामी आत्मानंद स्कूल का किया निरीक्षण

कलेक्टर जनमेजय महोबे ने लैब, ऑडिटोरियम, आईटी रूम, लाइब्रेरी, क्लासरूम, खेल मैदान, शौचालय की गुणवत्ता …