Breaking News

धन्वंतरि जयंती पर कार्यक्रम आयोजित

बेमेतरा l 17 नवम्बर 2020-भारत सरकार द्वारा संचालनालय आयुष विभाग छत्तीसगढ़ के निर्देशानुसार धन्वंतरि जयंती को पंचम राष्ट्रीय आयुर्वेद दिवस के रूप में मनाया गया जिसमें समस्त आयुष चिकित्सकों द्वारा भगवान धन्वंतरि का पूजन किए जाने के फलस्वरुप आयुर्वेद फॉर कोविड-19 पेंडेमिक विषय पर संगोष्ठी एवं औषधि पौधों एवं औषधीय द्रव्यों की प्रदर्शनी का आयोजन गत दिनों जिला आयुर्वेद अधिकारी कार्यालय बेमेतरा में किया गया।

आयुर्वेद फॉर कोविड-19 पेंडेमिक विषय पर संगोष्ठी एवं प्रदर्शनी का आयोजन जिला विपणन अधिकारी श्री बीएल.चंद्राकर की गरिमामय उपस्थिति में संपन्न हुआ। स्वागत भाषण का वाचन डॉ.यशपाल सिंह ध्रुव जिला आयुर्वेद अधिकारी बेमेतरा द्वारा किया गया एवं वैश्विक महामारी कोविड-19 से बचाव में आयुर्वेद की महत्व पर प्रकाश डाले साथी ही रितुचर्या, दिनचर्या, रात्रिचर्या व आहार-विहार का पालन करते हुए दीर्घायु रहने के उपाय बताए गए। समस्त अधिकारी एवं कर्मचारी आयोजित प्रदर्शनी का अवलोकन के साथ कोविड-19 से बचाव हेतु आयुष काढ़ा का भी सेवन किये।  इस कार्यक्रम में रोगियों का रक्त परीक्षण किया गया। आयुष विभाग के चिकित्सक डॉ.घना राम गायकवाड़, डाॅ.अतुल सिंह परिहार, डॉ.प्रदीप सिंह, डॉ. सतीश कुमार देवांगन एवं डॉ. भोजराम चंद्राकर द्वारा कोविड-19 महामारी हेतु आयुर्वेद विषय पर व्याख्यान दिया गया।

डॉ.स्वाती शर्मा, डॉ स्मिता श्रीवास्तव, डॉ.लतिकारानी देवांगन व हेमलता मरकाम द्वारा भगवान धन्वंतरी की रंगोली बनाई गई। डॉ. स्वाती शर्मा. डॉ स्मिता श्रीवास्तव, लतिकारानी देवांगन द्वारा कोविड-19 से बचाव हेतु प्रदर्शनी कार्यक्रम आयोजित किया गया। डॉ स्मिता श्रीवास्तव एवं डॉ लतिकारानी देवांगन द्वारा आयुर्वेद फार्मसिस्टों के लिए प्रश्नोत्तरी कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें विजेता को सम्मानित किया गया। उक्त कार्यक्रम में जिले के सभी चिकित्सक एवं कर्मचारी व कार्यालय स्टाफ द्वारा सहयोग दिए गए। आभार प्रदर्शन जिला आयुर्वेद अधिकारी द्वारा किया गया एवं कार्यक्रम का संचालन डॉ. पंकज दुबे द्वारा किया गया।



About newscg9

newscg9

Check Also

कलेक्टर ने विशेष पिछड़ी जनजाति बैगा छात्रावास के बच्चों से चर्चा कर पढ़ाई और भोजन व्यवस्था की ली जानकारी एवं स्वामी आत्मानंद स्कूल का किया निरीक्षण

कलेक्टर जनमेजय महोबे ने लैब, ऑडिटोरियम, आईटी रूम, लाइब्रेरी, क्लासरूम, खेल मैदान, शौचालय की गुणवत्ता …